मुख्यमंत्री की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी का प्रसारण 14 फरवरी को

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 15 वीं कड़ी का प्रसारण 14 फरवरी, रविवार को होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार ’उपयोगी निर्माण, जनहितैषी अधोसंरचनाएं, आपकी अपेक्षाएं’ विषय पर प्रदेशवासियों से बातचीत करेंगे। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफ.एम. रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।

मुख्यमंत्री ने महर्षि स्वामी दयानंद सरस्वती की जयंती पर उन्हें किया नमन

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने समाज सुधारक और आर्य समाज के संस्थापक महर्षि स्वामी दयानंद सरस्वती की आज जयंती पर उन्हें सादर नमन किया है। श्री बघेल ने उन्हें याद करते हुए कहा कि स्वामी दयानंद सरस्वती ने लोगों के कल्याण और उनकी शारीरिक, आत्मिक और सामाजिक उन्नति के उद्देश्य के लिए काम किया। उनका सामाजिक योगदान अविस्मरणीय हैं। महर्षि दयानन्द ने सामाजिक कुरीतियों, अन्धविश्वासों, पाखण्डों का खुलकर विरोध किया। आध्यात्मिक पुनरुत्थान के माध्यम से राष्ट्रीय जागरण की दिशा में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। महर्षि दयानंद के विचार मूल्य…

मुख्यमंत्री 13 फरवरी को अल्दा में छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 75वें महाधिवेशन में होंगे शामिल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 13 फरवरी को रायपुर जिले की तिल्दा तहसील के ग्राम अल्दा (तिल्दाराज) में छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 75वें महाधिवेशन में शामिल होंगे। श्री बघेल कार्यक्रम के अनुसार रायपुर से दोपहर 2 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर 2.15 बजे अल्दा (तिल्दाराज) तहसील तिल्दा पहुंचेंगे और वहां महाधिवेशन में शामिल होने के बाद अपरान्ह 3.35 बजे रायपुर लौट आएंगे।

छत्तीसगढ़ में लाख उत्पादक किसानों को भी अब अल्पकालीन कृषि ऋण और ब्याज अनुदान का लाभ : मुख्यमंत्री

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के अनुरूप छत्तीसगढ़ में लाख उत्पादन को कृषि का दर्जा मिला है। राज्य शासन द्वारा लाख उत्पादक किसानों तथा किसान-समूहों को भी कृषि फसलों के अनुरूप अल्पकालीन कृषि ऋण एवं ऋण पर नियमानुसार ब्याज अनुदान से लाभान्वित करने का आदेश जारी कर दिया गया है। कृषि विकास एवं किसान कल्याण तथा जैव प्रौद्योगिकी विभाग के संयुक्त सचिव द्वारा इस संबंध में जारी आदेश में कहा गया है कि कुसुम, पलाश, बेर आदि वृक्षों तथा सेमियालता आदि फसलों पर लाख उत्पादन एवं प्राथमिक प्रसंस्करण के…

एक हजार 36 करोड़ रूपए की चिराग परियोजना के लिए हुआ एमओयू, मुख्यमंत्री एवं कृषि मंत्री ने जताई प्रसन्नता

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विशेष पहल पर बस्तर अंचल के आदिवासी किसानों को लाभदायी खेती के लिए प्रोत्साहित करने के साथ ही उनकी माली हालात को बेहतर बनाने के उद्देश्य से 1036 करोड़ रूपए की चिराग परियोजना के लिए आज नई दिल्ली में एमओयू हुआ। विश्व बैंक सहायतित 6 वर्षीय चिराग परियोजना बस्तर संभाग के 7 जिलों के 13 विकासखण्डों तथा मुंगेली जिले के मुंगेली विकासखंड के 1000 गांवों में क्रियान्वित की जाएगी। चिराग परियोजना के लिए त्रिपक्षीय एमओयू, भारत सरकार वित्त मंत्रालय, विश्व बैंक एवं छत्तीसगढ़ सरकार के…