मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान को मिली बड़ी सफलता, कुपोषित बच्चों में 13.79 प्रतिशत की आई कमी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कुपोषण मुक्ति की पहल पर छत्तीसगढ़ में 2 अक्टूबर 2019 को शुरू हुए प्रदेशव्यापी मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के सकारात्मक परिणाम सामने आये हैं। इस अभियान के साथ विभिन्न योजनाओं के एकीकृत प्लान और समन्वित प्रयास से बच्चों में कुपोषण दूर करने में बड़ी सफलता मिली है। वर्ष 2019 में किये गये वजन त्यौहार से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में 9 लाख 70 हजार बच्चे कुपोषित थे, इनमें से मार्च 2020 तक 67 हजार 889 बच्चे कुपोषण से मुक्त हो गए हैं। इस तरह कुपोषित…

गोधन न्याय योजना : गोबर बेचने से हो रही अतिरिक्त आय से ग्रामीणजन खुश, पशुपालन को लेकर लोगों में उत्साह बढ़ा

रायपुर। गोधन न्याय योजना ग्रामीणों और पशुपालकों के लिए अतिरिक्त आय का जरिया बन गई है। छत्तीसगढ़ राज्य में हरेली पर्व से शुरू हुई गोधन न्याय योजना के अंतर्गत ग्रामीणों से दो रूपए प्रतिकिलो की दर से गोबर की खरीदी की जा रही है। पशुओं का गोबर आय का जरिया बन जाने से ग्रामीण किसान और पशुपालक बहुत खुश नजर आ रहे हैं। अब ग्रामीण किसान पशुपालन को लेकर उत्साहित है तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण गोबर खरीदी केन्द्र में गोबर बेचने आ रहे है। गौठानों में स्थित गोबर खरीदी…

जब हार्वर्ड के स्टूडेंट्स ने सराहा छत्तीसगढ़ की नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना, हार्वर्ड में अध्ययनरत छात्रों ने की मुख्यमंत्री से मुलाकात

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 15 फरवरी हाॅर्वर्ड यूनिवर्सिटी में कॉस्ट एंड पॉलिटिक्स विषय पर व्याख्यान दिए। इस अवसर पर श्री बघेल ने उपस्थित हार्वर्ड के स्टूडेंट्स को विशेषकर नरवा, गरवा घुरवा और बाड़ी योजना के विषय में विस्तृत जानकारी दी। वहां के स्टूडेंट ने इस कॉन्सेप्ट को गंभीरता से सुना और इस नए यूनिक योजना की तारीफ की। कार्यक्रम के मॉडरेटर डॉ. सुरज एंगड़े रहे। उन्होंने कॉस्ट एंड पॉलिटिक्स पर विस्तार से चर्चा किया। हार्वर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं को प्रदेश की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बारी ने इतना…

हाट-बाजारों में 10 लाख से अधिक लोगों का हुआ इलाज, प्रदेश के 1851 हाट-बाजारों में ग्रामीणों की निःशुल्क जांच, उपचार व दवाईयां मुहैया कराया गया

रायपुर। 15 फरवरी 2020. छत्तीसगढ़ के वनांचलों और ग्रामीण इलाकों के हाट-बाजारों में स्वास्थ्य विभाग की मेडिकल टीमों द्वारा दस लाख तीन हजार 678 लोगों को इलाज मुहैया कराया गया है। हाट-बाजारों की क्लिनिक में पहुंचे नौ लाख पांच हजार 473 मरीजों को जांच व उपचार के बाद निःशुल्क दवाईयां दी गई हैं। मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना के अंतर्गत प्रदेश के एक हजार 851 हाट-बाजारों में क्लिनिक लगाए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा योजना शुरू होने के बाद से कुल 17 हजार 150 हाट-बाजार क्लिनिक आयोजित किए गए हैं।…

पोषण पुनर्वास केन्द्र : बिनेश को मिली कुपोषण से मुक्ति

रायपुर(बीएनएस)। मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन अभियान योजना के तहत दुर्ग जिले के पाटन पोषण पुनर्वास केन्द्र में कुपोषित बच्चों को उपचार और पौष्टिक आहार देकर सुपोषित किया जा रहा है। हाल में ही इस केन्द्र में कुपोषित मास्टर बिनेश को इलाज के लिए भर्ती किया गया था। देखभाल और उपचार से अब वह पूरी तह से स्वस्थ हो गया है। कुपोषण से बाहर निकलकर अब वह सामान्य बच्चों की तरह खेलकूद रहा है। उसे हंसते-मुस्कुराते देखकर मां-बाप एवं परिवार के लोग प्रसन्न है। मास्टर बिनेश जब पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती…

कुपोषित बच्चों के लिए पोषण पुर्नवास केन्द्र बना तन्दुरूस्ती का केन्द्र, एक वर्ष में 457 कुपोषित बच्चे हुए लाभान्वित

रायपुर(बीएनएस)। राज्य सरकार कुपोषित बच्चों को कुपोषण मुक्त करने के लिए नीति एवं योजना तैयार कर बेहतर प्रयास कर रही है। इसी का परिणाम है कि अंबिकापुर जिले में संचालित एनआरसी (पोषण पुर्नवास केन्द्र) में पिछले एक वर्ष में भर्ती लगभग 457 कुपोषित बच्चों को सुपोषित किए जा चुके हैं। पोषण पुर्नवास केन्द्र में कुपोषित बच्चों का चिकित्सकीय देख भाल के साथ समुचित पोषण आहार प्रदान कर तन्दुरूस्त किया जा रहा है। पोषण पुनर्वास केंद्रों में 5 वर्ष तक के गंभीर कुपोषित बच्चों को चिकित्सीय व पोषण सुविधाएं प्रदान की…

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना में भी विशेषज्ञों की ओपीडी, 12 विभागों के विशेषज्ञों द्वारा निःशुल्क इलाज

रायपुर(बीएनएस)। राज्य शासन ने मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना में नया आयाम जोड़ा है। स्लम क्षेत्रों में मोबाइल मेडिकल टीम के नियमित शिविर के साथ ही अब विभिन्न विभागों के विशेषज्ञ भी लोगों का निःशुल्क इलाज कर रहे हैं। प्रदेश के 13 नगर निगमों में 12 अलग-अलग विभागों के विशेषज्ञों की सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। योजना के अंतर्गत निजी एवं सरकारी क्षेत्र के नामी विशेषज्ञों ने अब तक 229 शिविरों में मरीजों को निःशुल्क ओपीडी सेवाएं दी हैं। स्लम क्षेत्रों के मरीजों को विशेषज्ञ चिकित्सा सेवा मुहैया कराने…

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान: मुख्य सचिव ने हितग्राहियों की संख्या बढ़ाने के दिए निर्देश

रायपुर। प्रदेश में मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत चिन्हांकित महिलाओं और बच्चों को गर्म पोष्टिक भोजन प्रदान किया जा रहा है। मुख्य सचिव आर.पी.मण्डल ने मुख्यमंत्री की मंशानुरूप इस अभियान के तहत अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने के निर्देश सभी जिला कलेक्टरों को जारी किए है। उन्होंने बच्चों एवं महिलाओं को कुपोषण एवं एनीमिया से मुक्त कराने के इस महाअभियान को सफल बनाने के लिए जिला कलेक्टरों को विशेष योगदान देने को कहा है। मुख्य सचिव ने जिला कलेक्टरों को पत्र जारी करते हुए प्रदेश में बच्चों और…

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान को जनसहयोग से सफल बनाने की मुहिम

रायपुर(बीएनएस)। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री सुपोषण निधि खाता खोला गया है। खाताधारक का नाम-मुख्यमंत्री सुपोषण निधि है। इसका भारतीय स्टेट बैंक के ब्रांच इन्द्रावती भवन नवा रायपुर में खाता क्रमांक 38934322482 और आईएफएससी कोड -एसबीआईएन0018097 है। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान में जो व्यक्ति आर्थिक रूप से सहयोग देना चाहते हैं वे इस खाता में राशि जमा कर सकते हैं। जनभागीदारी को बढ़ाने या आर्थिक सहयोग करने के लिए मुख्यमंत्री सुपोषण निधि का संचालन किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि महिला…

मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना बनी ग्रामीणों के लिए वरदान

रायपुर। मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना जिले के दूरदराज के ग्रामीणों के लिए वरदान साबित हो रही हैं। हाट बाजार में आने वाले लोगों को अब वहीं पर ही क्लीनिक से स्वास्थ्य जांच और उपचार का लाभ मिलने से बहुत फायदा हो रहा है। विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए ग्रामीणों को शहरों में आना पड़ता। मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक से इन बीमारियों का इलाज अब स्थानीय स्तर पर ही हो रहा है। राजनांदगांव जिले के मानपुर, मोहला, अंबागढ़ चौकी के दूरस्थ अंचलों के हाट बाजारों में दैनिक उपयोग की…